छह साल की आद्या शतरंज की प्रदेश चैंपियन बनीं

नोएडा। खेलरत्न, सं : Time, 8:00, PM.
शहर की आद्या सिंह ने प्रदेश शतरंज प्रतियोगिता में शानदार प्रदर्शन कर खिताबी जीत हासिल की है। वह अंडर-7 की प्रदेश चैंपियन बनी हैं। प्रतियोगिता रविवार को गाजियाबाद में समाप्त हुई। इस जीत के साथ ही आद्या ने राष्ट्रीय शतरंज प्रतियोगिता के लिए भी क्वालीफाई कर लिया है। शतरंज के साथ ही सेक्टर-100 की यह खिलाड़ी स्केटिंग की भी अच्छी खिलाड़ी हैं।
प्रदेश चैंपियन आद्या
प्रदेश शतरंज प्रतियोगिता के अंडर-7 में आद्या ने गौतमबुद्ध नगर जिले का प्रतिनिधित्व किया। सेक्टर-100  निवासी आद्या ने 30 मार्च को हुई जिला शतरंज प्रतियोगिता में उम्दा प्रदर्शन करते हुए अंडर-7 का खिताब जीता था। इस जीत के बाद उन्हें प्रदेश चैंपियनशिप में भाग लेने का मौका मिला। वह करीब 9 महीने से विवेक मिश्रा से शतरंज सीख रही हैं। उनके भाई आदित्य सिंह भी शतरंज के खिलाड़ी हैं। उन्हें देखकर ही आद्या इस खेल से जुड़ी। भाई ने उन्हें इस खेल की बेसिक जानकारी दी। इसके बाद देखते देखते ही  आद्या इस खेल में माहिर हो गईं। आद्या के पिता शिवशंकर सिंह बताते हैं कि शतरंज में आद्या का रुझान भाई को खेलते देखकर हुआ। इसके बाद उसे इस खेल में मजा आने लगा और वह लगातार बेहतर प्रदर्शन कर रही है। अब  राष्ट्रीय प्रतियोगिता में बेटी से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद है। गौतमबुद्ध नगर चेस स्पोर्ट्स एसोसिएशन के सचिव केसी जोशी ने बताया कि जिले के लिए यह बड़ी उपलब्धि है। आद्या ने काफी कम समय में शानदार खेल का प्रदर्शन करते हुए जिले का नाम रोशन किया है।
स्केटिंग में भी नाम रोशन किया 
शतरंज के साथ ही आद्या स्केटिंग की भी अच्छी खिलाड़ी हैं। उन्होंने बीते वर्ष दिल्ली स्टेट और नॉर्थ जोन स्केटिंग प्रतियोगिता का खिताब अपने नाम किया था। वह चार साल की उम्र से सेक्टर-100 स्थित स्केटिंग रिंक में खेल का अभ्यास कर रही हैं। एपीजे स्कूल की दूसरी कक्षा की छात्रा आद्या शतरंज के साथ ही स्केटिंग से भी नियमित रूप से जुड़ी हुई हैं।
डीपीएस के छात्र राघव श्रीवास्तव को दूसरा स्थान मिला
अंडर-7 प्रदेश शतरंज प्रतियोगिता के लड़कों के वर्ग में राघव श्रीवास्तव उपविजेता बने। डीपीएस दूसरी कक्षा के इस छात्र का भी प्रतियोगिता में अच्छा प्रदर्शन रहा। प्रतियोगिता में दूसरा स्थान प्राप्त कर राघव ने भी राष्ट्रीय शतरंज प्रतियोगिता के लिए क्वालीफाई कर  लिया है। यह भी प्रदेश टीम का प्रतिनिधित्व करेंगे। राष्ट्रीय शतरंज प्रतियोगिता 1-6 जून तक कोलकाता में खेली जाएगी। उनके वर्ग में 22 खिलाड़ियों ने भाग लिया।
दूसरे स्थान पर रहनेवाले राघव श्रीवास्तव
शतरंज की ओर रुझान बढ़ा
जिले में शतरंज खेल के प्रति बच्चों और अभिभावकों में रुझान बढ़ा है। लिहाजा इस खेल की प्रतियोगिताओं की संख्या बढ़ी है। इस वर्ष जिला स्तर पर एक प्रतियोगिता हो चुकी है। वहीं मई में एक और प्रतियोगिता होगी। इस खेल में खिलाड़ियों की संख्या भी लगातार बढ़ रही है। अन्य खेलों के साथ ही शतरंज भी स्कूलों में शामिल किया जा रहा है।

Leave a Reply