राष्ट्रीय स्कूल तैराकी में आलिया ने दो स्वर्ण अपनी झोली में डाले

नोएडा। खेलरत्न, सं : Time, 10:00, PM.
राष्ट्रीय स्कूल खेल की तैराकी स्पर्धा में शहर की आलिया सिंह ने उम्दा प्रदर्शन करते हुए दो स्वर्ण पदक अपनी झोली में डाले। उन्होंने 50 और 100 मीटर ब्रेस्ट स्ट्रोक स्पर्धा में पहला स्थान हासिल किया। डीपीएस नोएडा की यह छात्रा पहले भी राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं में अपना कमाल दिखा चुकी है। दिल्ली में शुक्रवार को समाप्त हुई प्रतियोगिता में शहर की नव्या सिंघल ने भी रजत पदक झटका है।

पदक के साथ आलिया सिंह

आलिया सिंह ने 50 मीटर ब्रेस्ट स्ट्रोक में 35 सेकेंड 72 माइक्रो सेकेंड का समय निकालते हुए स्वर्ण पदक अपनी झोली में डाला। इससे पहले शहर की इस जलपरी ने 100 मीटर ब्रेस्ट स्ट्रोक में पहला स्थान हासिल करने के लिए एक मिनट 18 सेकेंड का समय लिया। उन्होंने दोनों स्पर्धाओं में शानदार प्रदर्शन करते हुए पहला स्थान हासिल किया। इस वर्ष कई बार सेहत खराब होने के कारण तैराकी की अन्य प्रतियोगिताओं में उनका प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा था, लेकिन राष्ट्रीय स्कूल खेल में उन्होंने उम्दा प्रदर्शन कर अपनी प्रतिभा फिर से साबित कर दी है।
डीपीएस में 11वीं कक्षा में शिक्षा ग्रहण कर रही आलिया सिंह राष्ट्रीय जूनियर तैराकी में नए रिकॉर्ड के साथ पदक अपने नाम कर चुकी हैं। वहीं प्रदेश तैराकी में भी श्रेष्ठ तैराक का खिताब कई बार जीत चुकी हैं। खेलो इंडिया कार्यक्रम के तहत भी उन्हें चुना गया है। जूनियर राष्ट्रीय तैराकी में शानदार प्रदर्शन के बाद उन्हें इस कार्यक्रम से जोड़ा गया था। प्रदेश सरकार भी उन्हें कई खिताब से नवाज चुकी है। आलिया के पिता शैलेंद्र सिंह ने बताया कि बेटी का इस वर्ष सेहत ठीक नहीं रही है। लिहाजा कई प्रतियोगिताओं में प्रदर्शन पर प्रभाव पड़ा है। बावजूद आलिया अच्छा कर रही है। भविष्य की प्रतियोगिताओं में भी उनसे बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद है।

 

एक सप्ताह पहले था आलिया को बुखार
एक सप्ताह पहले आलिया सिंह वायरल बुखार से पीड़ित थीं। बावजूद उन्होंने स्वर्ण पदक पर कब्जा किया। इस साल उनका स्वास्थ्य भी बेहतर नहीं रहा है। लिहाजा उन्होंने प्रदेश स्तरीय किसी भी प्रतियोगिता में भाग नहीं लिया। राष्ट्रीय सीनियर वर्ग की प्रतियोगिता के बाद राष्ट्रीय स्कूल खेल में उन्होंने भाग लिया। आने वाले दिनों में उन्हें कई प्रतियोगिताओं में भाग लेना है। इसके लिए वह कड़ा अभ्यास कर रही हैं।

प्रशिक्षण के लिए विदेश जाएंगी
आलिया के पिता शैलेंद्र सिंह ने बताया कि आलिया को ऑस्ट्रेलिया में प्रशिक्षण दिलाने की तैयारी है। जूनियर स्तर पर आलिया अपनी प्रतिभा दिखा चुकी है। ऐसे में सीनियर वर्ग में बेहतर प्रदर्शन के लिए कड़ी मेहनत के साथ ही बेहतर स्किल भी होने जरुरी है। ऐसे में ऑस्ट्रेलिया में बेहतर प्रशिक्षक की तलाश में हूं। इस देश से कई तैराकों ने विश्वस्तर पर अपनी छाप छोड़ी है। यहां प्रशिक्षण से और भी लाभ होगा।

Leave a Reply