18वें होल पर डबल बॉगी ने बिगाड़ा गौरव का खेल, चिकरंगप्पा और मुनियप्पा बने विजेता

नोएडा। खेलरत्न, सं : Time, 1:30, PM.
दिल्ली एनसीआर ओपन गोल्फ चैंपियनशिप के आखिरी दिन 18वें होल पर मारी गई बॉगी ने गौरव के चार दिनों का खेल बिगाड़ दिया। नोएडा गोल्फ कोर्स के इस खिलाड़ी को 18वें स्थान से संतोष करना पड़ा। वहीं चिकरंगप्पा और सी मुनियप्पा ने शानदार खेल दिखाते हुए संयुक्त विजेता बने। नोएडा गोल्फ कोर्स में शुक्रवार को यह प्रतियोगिता समाप्त हुई। तीसरे स्थान पर शमीम खान रहे।

प्रतियोगिता के विजेता चिकरंगप्पा स्ट्रोक लगाने की तैयारी करते। साथ ही नोएडा गोल्फ कोर्स में खेल का लुत्फ उठाते दर्शक

नोएडा गोल्फ कोर्स के एक और गोल्फर विक्रांत चोपड़ा को 50वां स्थान मिला। गौरव प्रताप प्रतियोगिता के तीसरे द दिन तक छठे स्थान पर थे, लेकिन चौथे दिन के खेल ने उनके टॉप टेन में रहने के लिए की गई मेहनत पर पानी फेर दिया। उन्होंनें तीन दिनों तक प्रत्येक दिन कम से कम दो-दो बर्डी खेली, लेकिन आखिर दिन उन्होंने महज एक बर्डी खेली। वहीं दो बोगी के साथ ही एक डबल बॉगी खेल गए। इसी से उनका खेल बिगड़ गया। डबल बॉगी उन्होंने आखिरी दिन के आखिरी होल पर खेली। जिसका खामियाजा भुगताना पड़ा। तीन दिनों तक अंडर 6 का स्कोर लेकर चलने वाले गौरव आखिरी दिन के खेल के बाद अंडर 3 तक पहुंच गए। उन्होंने पहले दिन 71, दूसरे दिन 71, तीसेरे दिन 68 और चौथे दिन 75 स्ट्रोक मारकर 72 होल पूरे किए।

 

चिकरंगप्पा, मुनियप्पा ने बाजी मारी
दिल्ली-एनसीआर गोल्फ चैंपियनशिप का खिताब एस चिकरंगप्पा और सी मुनियप्पा ने अपने नाम किया। तीसरे स्थान पर शमीम खान रहे। चिकरंगप्पा और मुनियप्पा ने अंडर 16 का स्कोर बनाते हुए संयुक्त रूप से खिताबी जीत हासिल की। चिकरंगप्पा ने 67, 69,67 और 69 स्ट्रोक खेलकर 72 होल पूरे किए। वहीं सी मुनियप्पा ने 66, 69, 68 और 69 स्ट्रोक खेलकर चार दिनों का खेल समाप्त किया। वहीं शमीम खान इस टूनामेंट में तीसरे स्थान पर रहे। उनका स्कोर अंडर 12 रहा। उन्होंने 72 होल पूरा करने के लिए पहले दिन 69, दूसरे दिन 66, तीसरे दिन 71 और चौथे दिन 70 स्ट्रोक खेले। वहीं नोएडा के विक्रांत चोपड़ा को 50वां स्थान मिला। उन्होंने आठ ओवर खेले।

Leave a Reply