बांग्लादेश के साथ हुआ मैच सबसे अहम था : शिवम मावी

नोएडा। खेलरत्न, सं, Time, 10:30, PM.
विश्वकप अंडर-19 में बांग्लादेश के साथ हुआ क्वार्टर फाइनल हमारे लिए सबसे अहम मैच था। इसके कई कारण थे। एशिया कप में हमारी टीम बांग्लादेश से हार चुकी थी। इसका दबाव टीम पर था। वहीं यह विश्वकप का क्वार्टर फाइनल भी था। इसलिए इस मैच को किसी भी हाल में जीतना हमारी प्राथमिकता थी। वहीं द्रविड़ सर ने पूरी टीम को कहा था कि किसी भी टीम को हल्के में नहीं लेना है। यह बातें भारतीय अंडर-19 टीम के तेज गेंदबाज शिवम मावी ने बुधवार को कही। विश्वकप खेलने के बाद वह नोएडा लौटे।

अपने परिवार के साथ शिवम मावी

शिवम ने बताया कि टीम के लिए सभी मैचों में एकतरफा जीत मिली यह हमारे लिए काफी महत्वपूर्ण है। संतुलित टीम और द्रविड़ सर (राहुल द्रविड़) की सीख ने हमें विश्वकप का विजेता बना दिया। विश्वकप के बाद की तैयारियों के बारे में शिवम ने बताया कि अभी बायें हाथ की उंगली में चोट के कारण कुछ दिन आराम करना होगा। ऐसे में घरेलू मुकाबले नहीं खेल पाऊंगा। चोट के कारण अब सीधा कोलकाता नाइट राइडर्स के शिविर में शामिल होने जाउंगा। उन्होंने बताया कि वर्तमान में 145 की तेज रफ्तार से गेंदबाजी कर रहा हूं, लेकिन स्विंग भी अहम है। रफ्तार बढ़ाने का प्रयास होगा, लेकिन उसमें स्विंग भी होनी चाहिए। सिर्फ रफ्तार से ही सकारात्मक परिणाम नहीं मिल सकता।

 

परिवार, प्रशिक्षक और साथी खिलाड़ियों की मदद से पहुंचा इस मुकाम तक
शिवम ने बताया कि कोई भी व्यक्ति परिवार की मदद के बगैर आगे नहीं बढ़ सकता। ऐसे में मां-पिता सहित परिवार के अन्य सदस्यों ने पूरा साथ दिया। वहीं मेरे प्रशिक्षक फूलचंद शर्मा ने मुझे क्रिकेट की बारीकियां बताईं। इनके प्रशिक्षण के बिना आगे बढ़ना मुश्किल था। वहीं रेलवे के रणजी खिलाड़ी अनुरीत सिंह ने भी मेरी गेंदबाजी में मदद की। इसके अलावा मेरे साथ खेलने वाले खिलाड़ियों और नोएडा के लोगों ने भी मुझे विभिन्न पहलुओं की जानकारी दी।

Leave a Reply