नोएडा के स्केटरों ने सात स्वर्ण सहित 15 पदक अपनी झोली में डाले

नोएडा। खेलरत्न, सं : Time, 10:30, PM.
नोएडा स्टेडियम में स्केटिंग के गुर सीख रहे स्केटरों ने दिल्ली ओपन स्केटिंग में शानदार प्रदर्शन किया। स्केटरों ने सात स्वर्ण सहित 15 पदक झटके। दिल्ली के बवाना में 12 मई को समाप्त हुई प्रतियोगिता में मेजबान सहित एनसीआर के 300 से अधिक स्केटरों ने प्रतिभा का प्रदर्शन किया।

पदक विजेता स्केटर

शहर के स्केटरों ने सात स्वर्ण, एक रजत और सात कांस्य पदक झटके। स्पीड स्केटिंग के क्वाड्स और इनलाइन में खिलाड़ियों ने दमखम दिखाया। 7-9 आयुवर्ग में मिशाया पाणिग्रही ने उम्दा प्रदर्शन करते हुए इनलाइन स्पर्धा में तीन स्वर्ण पदक जीते। लव्यांश पांडेय ने भी हरफनमौला प्रदर्शन करते हुए 9-11 आयुवर्ग में तीन स्वर्ण अपने नाम किया। अनुष्का भटनागर ने 11-14 आयुवर्ग में एक स्वर्ण, एक रजत और एक कांस्य पदक जीता। सौमिल दास ने 9-11 आयुवर्ग के क्वाड्स में तीन कांस्य पदक जीते। इसी वर्ग में आन्या ठाकुर ने दो कांस्य पदक झटके। विहान ठाकुर ने 5-7 आयुवर्ग में एक कांस्य पदक अपने नाम किया। इन स्केटरों के मुख्य प्रशिक्षक राजेश शैली ने बताया कि खिलाड़ियों ने प्रतियोगिता में उम्दा प्रदर्शन किया। भविष्य में भी इन खिलाड़ियों से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद है। आने वाले दिनों में कई राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं में यहां के स्केटर भाग लेंगे।

पहले भी राष्ट्रीय स्तर पर दिखाया जौहर
दिल्ली ओपर स्केटिंग चैंपियनशिप में पदक जीतने वाले खिलाड़ियों ने राज्य और राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता में पहले भी शानदार प्रदर्शन किया है। मिशाया ने प्रदेश स्केटिंग में पदक जीतने के साथ ही सीबीएसई नेशनल में भी पदक अपने नाम किया है। लव्यांश ने राज्य प्रतियोगिता में पदक झटका है। वहीं सीबीएसई नेशनल में प्रतिनिधित्व किया। ऑल इंडिया आरएसएफआई चैंपियनशिप में दो कांस्य पदक जीते। आनया सीबीएसई नेशनल स्केटिंग चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीत चुकी हैं। अनुष्का ने सीबीएसई जोनल प्रतियोगिता में पदक जीता है। सौमिल ऑल इंडिया आरएसएफआई प्रतियोगिता में कांस्य पदक अपने नाम किया है।

सूरजपुर में जिले का पहला बैंक ट्रैक बनकर तैयार
ग्रेटर नोएडा में जिले का पहला बैंक ट्रैक बनकर तैयार कर लिया गया है। सूरजपुर में खिलाड़ियों और कुछ लोगों ने मिलकर बैंक बनाया है। इसी ट्रैक पर राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताएं आयोजित की जाती है। नोएडा स्टेडियम में कई सालों से बैंक ट्रैक बनाने की मांग की जा रही है, लेकिन अब तक यह बनकर तैयार नहीं हुआ। बेहतर प्रदर्शन के लिए इस ट्रैक पर अभ्यास करना जरुरी है।

Leave a Reply