टीम इंडिया को मिलेगा विश्व कप से पहले खेले गए 22 अंतरराष्ट्रीय मैचों का फायदा

विश्वकप फुटबॉल अंडर-17

-5 अक्तूबर 2016 से 6 अगस्त 2017 तक अंडर-17 फुटबॉल टीम ने 22 मुकाबले खेले

नोएडा। दिल्ली, खेलरत्न, सं : Time, 11:00 PM.
पहली बार भारत में होने वाले विश्व कप अंडर-17 फुटबॉल विश्व कप में भारत के प्रदर्शन को लेकर फुटबॉल प्रेमियों में उत्सुकता है। बीते एक साल में भारतीय टीम ने 22 अंतरराष्ट्रीय मुकाबले खेले हैं। इसका लाभ टीम इंडिया के जूनियर खिलाड़ियों को मिल सकता है। दोस्ताना और विभिन्न टूर्नामेंट में खेले गए मैचों में भारत का प्रदर्शन भी संतोषजनक रहा है। अमेरिका के साथ होने वाले पहले मुकाबले में ही भारतीय टीम की ताकत पता चल जाएगा। विशेषज्ञों की माने तो अधिक अंतरराष्ट्रीय मुकाबले खेलने का लाभ निश्चित रूप से किसी भी टीम को मिलेगा। चाहे वह भारत हो या फिर कोई अन्य देश।

भारत की अंडर 17 फुटबॉल टीम

भारतीय टीम ने 5 अक्तूबर 2016 से 6 अगस्त 2017 तक ब्रिक्स अंडर-17 फुटबॉल कप, ग्रेनाटकिन, लैजियो, नेसियोनेस कप जैसे अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट में फुटबॉल के दिग्गज टीमों से भिड़ चुकी है। वहीं कई दोस्ताना मुकाबलों में भी टीम को खेलने का मौका मिला है। ब्राजील के साथ हुए मुकाबले में भारतीय टीम 3-1 से हारी। जो टीम के लिए संतोष देने वाली रही। वहीं सर्बिया जैसी मजबूत टीम से टीम ने बराबरी कर उम्दा प्रदर्शन किया। वहीं फुटबॉल की दिग्ग्ज टीम रुस, दक्षिण अफ्रीका, चीन, बेलारुस, इरान, से एक गोल से टीम इंडिया को हार मिली। जो एक बेहतर प्रदर्शन कहा जा सकता है। चीली जैसी उम्दा टीम के साथ भारतीय टीम ने 1-1 की बराबरी कर अपनी ताकत भी दिखाई। ऐसे में फुटबॉल प्रेमियों को कहीं न कहीं भारतीय टीम से उम्मीद की किरण दिख रही है।


अनादि बरुआ

‘भारतीय टीम ने विभिन्न टूर्नामेंट और दोस्ताना मुकाबलों में उम्मीद से बेहतर प्रदर्शन किया है। ऐसे में टीम से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद है। हालांकि हमें जिन टीमों से खेलना है वह काफी मजबूत और तेज रफ्तार से फुटबॉल खेलने में माहिर हैं। लिहाजा भारतीय टीम को थोड़ी सी चूक भारी पड़ सकती है। हमें जीत के लिए जी-जान लगा देना होगा।’
अनादि बरुआ, पूर्व अंतरराष्ट्रीय फुटबॉलर और खेल जानकार

Leave a Reply