योग के प्रत्येक पहलू से रूबरू कराएगी 50 पन्नों की ई-बुक  

-इस किताब को आयुष मंत्रालय ने तैयार किया है
-योग  प्रत्येक पहलू को इसमें शामिल किया गया है.
 नई दिल्ली , खेलरत्न, सं: 
योग संस्कृति है. योग स्वास्थ्य है. योग खेल प्रतियोगिता है. हमारे देश में  योग के कई मायने हैं. इन्हीं मायनों को समेटते हुए आयुष मंत्रालय ने 50 पन्नों की ई-बुक जारी की है. जो सोशल मीडिया पर सुर्खियां बटोर रही   है. इस पुस्तक में योग, प्राणायाम के तरीके, फायदे, सहित कई जानकारियां दी गई हैं.
अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 21   जून को मनाया जाएगा. इसे लेकर देश भर में तैयारियां भी चल रही हैं.  इसी क्रम में आयुष  मंत्रालय ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस सामान्य योग अभ्यासक्रम नाम की पुस्तक  जारी  की है. इस ई-बुक में योगासन, प्राणायाम करने के सही तरीके सचित्र बताये गए हैं. इसके लाभ, अभ्यास विधि, सावधानियां के बारे में भी बताया गया है. इसके अलावा योग का इतिहास, किन-किन ग्रंथों या वेदों से योग लिए गए, आदि की जानकारी भी पुस्तक में है. इस पुस्तक को  www. ayush.co.in वेबसाइट पर जाकर देखा जा सकता है. वेबसाइट के इवेंट और न्यूज़ कैटेगरी में जाकर   कॉमन योगा प्रोटोकॉल 2017 को क्लिक  करना होगा. इसके बाद पुस्तक खुल जाएगी.
इन पहलुओं को इस पुस्तक में बताया गया है 
योगासन : खड़े होकर किये  जानेवाले आसन- ताड़ासन, वृक्षासन, पादहस्तासन, अर्धचक्रासन, त्रिकोणासन
बैठकर किये जानेवाले आसन : भद्रासन, वज्रासन, अर्ध उष्ट्रासन, उष्ट्रासन, शशांकासन, उत्तान मंडूकासन, मरीच्यासन, वक्रासन
उदार के बल लेटकर किये जानेवाले आसन : मकरासन, भुजंगासन, शलभासन
पीठ के बल लेटकर किये जानेवाले आसन : सेतुबंधासन, उत्तानपादासन, अर्ध हलासन, पवनमुक्तासन, शवासन,
 इसके अलावा कपालभाति, प्राणायाम, ध्यान संकल्प और शांतिपाठ से होनेवाले फायदे के बारे में जानकारी दे गई है. योगाभ्यास के लिए दिशानिर्देश भी जारी किये गए हैं. ताकि सही दिशा में इसका लाभ लोगो को मिल पाए.
  ‘ योग से सम्बंधित कई महत्वपूर्ण जानकारी इस पुस्तक में दी गई है. जिसे हमलोग व्हाट्स ऍप , फेसबुक आदि सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों तक पहुंचा रहे हैं.सभी लोगों को यह पुस्तक पढ़नी  चाहिए.  ‘
सर्वेश उपाध्याय, योग प्रशिक्षक

Leave a Reply