दिल्ली किंग्स के सामने नतमस्तक हुए नोएडा के वॉरियर्स 

नोएडा, खेलरत्न, सं: Time, 12:05, AM.

नार्थ इंडिया चैंपियंस लीग टी-20  क्रिकेट में मंगलवार  को नोएडा के वारियर्स दूसरे मैच में भी नहीं चले. ग्रेटर नोएडा के शहीद पथिक सिंह स्पोर्ट्स काम्प्लेक्स में खेले गए मुकाबले में  उन्हें डेल्ही किंग्स के हाथों 30 रनों की पराजय मिली. दूसरे  मैच में चंडीगढ़ चीताज ने गुरुग्राम स्पार्टन्स को 25 रनों से हरा दिया. दिल्ली की टीम ने ख़राब शुरुआत के बावजूद भी नोएडा को 195 रन  का लक्ष्य दिया.

मंगलवार को ग्रेटर नोएडा के शहीद पथिक सिंह स्पोर्ट्स काम्प्लेक्स में दो मैच खेले गए.

पहले बल्लेबाजी करते हुए दिल्ली की टीम ने 20 ओवरों में 195 रन बनाये. टीम के ओपनर बल्लेबाज नहीं चले. एक समय तो 3 विकेट पर किंग्स का स्कोर महज़ 22 रन था. लेकिन मध्य क्रम के बल्लेबाजों ने अच्छी  पारी खेलकर बड़ा स्कोर बनाया. सीडी बिष्ट ने शानदार पारी खेलते हुए 51 रन ठोके. कुञ्ज शर्मा 31 और एसपी राठी ने 42 रनों की उपयोगी पारी खेली. नोएडा के कपिल और राहुल ने दो-दो विकेट लिए.

लक्ष्य का पीछा करने उतरी नोएडा वारियर्स की शुरुआत अच्छी नहीं रही.  5 बल्लेबाज महज 45 रन बनाकर पवैलियन लौट चुके थे. टीम के 9वे, 10वे, और 11वें नंबर के बल्लेबाज ने टीम को लक्ष्य तक पहुंचने का प्रयास किया, लेकिन सफलता नहीं मिली. किसी तरह जीत के अंतर को काम करने में सफल रहे. आखिरी के तीन बल्लेबाजों ने टीम के लिए 75 रन जोड़े. नहीं तो टीम की हालत क्या होती इसका अंदाजा लगाया जा सकता है. अंतिम में अलिज़ाम ने 28 , कपिल ने 27 और ऋतिक ने 20 रनों की पारी खेली. दिल्ली के प्रदीप, कपिल और कुञ्ज ने 2-2  विकेट लिए. दिल्ली अपने दोनों लीग मैच जीत चुका है, जबकि नोएडा को दोनों में हार मिली है. दूसरे मैच में चंडीगढ़ ने 4 विकेट खोकर 172 रन बनाये. गुरुग्राम की टीम महज 147 रन ही बना सकी.

मैच में  दिल्ली की मजबूती : इस मैच में शुरूआती झटके लगने के बाद भी मध्यक्रम के बल्लेबाजों का  शानदार प्रदर्शन. गेंदबाजी भी संतोषजनक रही.

नोएडा की कमजोरी : नोएडा के ओपनर और मध्यक्रम के बल्लेबाजों का निराशाजनक प्रदर्शन.  आखिरी के बल्लेबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया, अगर सलामी और मध्यक्रम के बल्लेबाज संभलकर खेलते तो परिणाम बदल सकता था.

Leave a Reply