रोमांचक मुकाबले में 4-3 से हारा  उत्तर प्रदेश 

फगवाड़ा /नोएडा, खेलरत्न, सं:

राष्ट्रीय  महिला फुटबॉल प्रतियोगिता के एक अहम् मुकाबले में उत्तर प्रदेश को त्रिपुरा  से 4-3 से हार का सामना करना पड़ा. रिजर्व गोलकीपर के साथ खेल रही उत्तर प्रदेश टीम की  अग्रिम और रक्षापंक्ति की महिला  खिलाडियों ने शानदार प्रदर्शन किया. मध्यांतर से पहले टीम 3-0 से पीछे चल रही थी. अगर प्रदेश की मुख्य  गोलकीपर होती तो मैच प्रदेश के पक्ष में होता, क्योंकि गोलकीपर की गलती से कम से कम  दो गोल हुए.
त्रिपुरा के साथ मैच से पहले वार्मअप करतीं उत्तर प्रदेश की महिला फुटबॉलर
पंजाब के फगवाड़ा में खेली जा रही प्रतियोगिता में मध्यांतर से पहले 3-0 से पिछड़ने के वावजूद प्रदेश की टीम ने हाफ टाइम के बाद शानदार वापसी की.मैच के 72वें  मिनट में टीम ने 3-3 की बराबरी कर ली थी. बराबरी की ओर बाद मैच के 84वें  मिनट में  त्रिपुरा की टीम ने एक गोल कर मुकाबला अपने नाम कर लिया. यह गोल भी गोलकीपर की गलती से हुआ. मध्यांतर  से पहले 15वें, 27वे, और 37वे मिनट में त्रिपुरा ने गोल दागकर  3-0  बढ़त बना ली थी. उत्तर प्रदेश ने इस मैच में जीत हासिल करने के लिए अपने दो गोल कीपर उतारे, लेकिन सफलता नहीं मिली.  उत्तर  प्रदेश की टीम  प्रतियोगिता में रिजर्व गोलकीपर के साथ खेल रही है. मुख्य गोलकीपर की परीक्षा होने के कारन अभ्यास सत्र के अपने घर लौट गई. प्रदेश का अगला और आखिरी मुकाबला कमज़ोर मनेजानेवाली अरुणाचल प्रदेश से है. उत्तर प्रदेश की टीम प्रीक्वार्टर फाइनल राउंड से लगभग बहार हो गई है.
टीम के प्रशिक्षक वाजिद अली ने बताया कि गोलकीपर का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा, नहीं तो हम मैच जरूर जीतते. वह भी ऐसे समय जब हम मध्यांतर के बाद टीम ने  शानदार खेल दिखाया.
 
मध्यांतर के बाद 15 मिनट में 3 गोल मार प्रदेश ने की अच्छी वापसी
 उतार प्रदेश ने मध्यांतर के बाद 15 मिंनट में तीन गोल कर शानदार वापसी की. लेकिन गोलकीपर से हो रही   लगातार गलती ने टीम को हार के लिए मज़बूर कर दिया. अंतर्राष्ट्रीय अनुभव रखनेवाली पिंकी ने टीम के लिए पहला गोल 60वें मिनट में किया. दूसरा गोल ब्यूटी केसरी  ने 65वे मिनट और तीसरा गोल नोएडा की विशाखा ने 72वे मिनट में   दागा. मैच बराबर होने पर खिलाडियों ने खूब खुशिया मनाईं, लेकिन यह ख़ुशी 15 मिनट तक ही रह पाई.

Leave a Reply